शक्श

कुछ शब्द अगर में कह पाता कभी तो कहता उस शक्श के बारे में टेढ़ी मेढ़ी है जिसकी चाल वक़्त की जिसने ओढ़ी है एक शाल | बड़ी भुजाओं वाला एक अजीब सा शक्श  है वो मुछों में शान , चेहरे पे सम्मान दिल में अजीब सा बांध  है मजबूत और विशाल है | शौर्य है … Continue reading

Rate this:

Happy Dreams – Christmas

Wheels on the highway flying like an eagle with the nos installed just feels like the seagull The steering seems to be the head turning left and right with the jest lights glow like the eyes and I drive, drive and drive… Santa’s cap on my head my reindeer took off and ride where is … Continue reading

Rate this:

Murdered/Raped – I am Dead

And I cry with a word of pain, Grabbing me and tearing me. Why? Why anybody would do that? Am I not a body of flesh and warmth?   I am resting in peace is what they think, No I’m not at peace, I am not sleeping. Where is justice that was promised? Is it … Continue reading

Rate this:

तू कौन है

तू कौन है कभी पूछा वक़्त ने मुझसे की तू कौन है आरंभ है की कहीं तू अंत है जवाब कुछ अधुरा सा ही रह गया ढलती हुई शाम सा मै एक सोच में ही उलझा रह गया कभी ख्याल तो कभी एक खवाब सा अंधेरों में खोया एक शख़्स सा ही रह गया टटोला, समझाया फिर भी जवाब … Continue reading

Rate this: